.....

Rio Olympics : रेसलर साक्षी ने जीता ब्रॉन्ज,12 दिन बाद भारत को पहला मेडल

रियो डि जेनेरियो.   23 साल की रेसलर साक्षी मलिक ने ओलिंपिक के 12वें दिन कमाल का मैच खेला।  रियो में यह भारत का पहला मेडल है। महिला रेसलिंग में भारत का किसी भी अोलिंपिक का पहला मेडल है। साक्षी ने बुधवार शाम 6:38 बजे से देर रात 2:50 आठ घंटे 12 मिनट में 5 मुकाबले लड़े। चार में जीतकर देश को मेडल दिलाया

साक्षी थोड़ा प्रेशर में थीं, लेकिन उन्होंने हौसला नहीं खोया और फिर जबरदस्त पलटवार करते हुए एसुलू को दो बार मैट पर गिराया और मुकाबला खत्म होने के 10 सेकंड पहले तक स्कोर 5-5 पर ला दिया।

साक्षी मेडल से बस कुछ ही दूर थीं। आगे के गेम में उन्होंने कोई गलती नहीं की और आखिरी 9 सेकंड में साक्षी ने किर्गिस्तान की रेसलर काे पटका। इससे तीन प्वाइंट मिले। साक्षी ने 8-5 के अंतर से एसुलू तिनिवेकोवा को हराकर मुकाबला अपने नाम कर लिया। 

मैच के बाद साक्षी ने कहा,मुझे जीत का भरोसा था। यह भारतीय महिला रेसलिंग के लिए ऐतिहासिक मौका है। यह सफलता मेरी 10 सालों की कड़ी मेहनत का नतीजा है। यह मेरे लिए स्पेशल है और मैं गर्व महसूस कर रही हूं कि मैंने देश के लिए मेडल जीत लिया।


Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment