.....

उज्जैन में नागचंद्रेश्वर मंदिर के पट खुलें


उज्जैन।  महाकालेश्वर मंदिर के शीर्ष पर स्थित भगवान नागचंद्रेश्वर मंदिर के पट शनिवार मध्यरात्रि को 12 बजे खुलें। 
इसके पश्चात् महानिर्वाणी अखाड़े के महंत प्रकाशपुरी तथा प्रभारी कलेक्टर अविनाश लवानिया द्वारा पूजा-अर्चना की जाएगी।
वर्ष में एक बार नागपंचमी पर होने वाले भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन के लिए स्थानीय के साथ ही देश-विदेश से हजारों भक्त उमड़ेंगे। 

रविवार रात 12 बजे तक सतत् 24 घंटे दर्शन का सिलसिला चलेगा। मंदिर प्रशासन ने श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए बेहतर इंतजाम किए हैं। शिखर पर आकर्षक विद्युत सज्जा भी की गई है।

 सामान्य दर्शनार्थी मंदिर स्थित पुलिस चौकी के सामने लगे बैरिकेड्स से दर्शन की कतार में लगेंगे तथा माधव सेवा न्यास की पार्किंग, फेसिलिटी सेंटर, टनल के रास्ते मार्बल गलियारा होते हुए नृसिंह मंदिर गेट से परिसर में आकर लोहे की सीढ़ियों से होकर नागचंद्रेश्वर मंदिर पहुंचेंगे।
 250 रुपए के विशेष पासधारी श्रद्धालु तथा दिव्यांग मंदिर के पीछे शंख तिराहे के सामने फेसिलिटी सेंटर से टनल में होते हुए मार्बल गलियारा, नृसिंह मंदिर गेट से सीढ़ियों के रास्ते मंदिर में प्रवेश करेंगे।
नागपंचमी पर महाकाल दर्शन करने वाले भक्त भस्मारती गेट से विश्रामधाम, सभा मंडप होते हुए नंदी हॉल के पीछे बैरिकेड्स से राजाधिराज के दर्शन करेंगे। इस दिन महाकल दर्शन के लिए 250 रुपए के विशेष दर्शन की सुविधा बंद रहेगी।

7 अगस्त को भस्मारती दर्शन करने वाले भक्तों के लिए प्रवेश की व्यवस्था अलग रहेगी। नंदी मंडपम् की अनुमति वाले भक्त महाकाल प्रवचन हॉल गेट से मंदिर में प्रवेश करेंगे। वहीं गणेश मंडपम् की अनुमतिधारी श्रद्धालु भस्मारती गेट से जाएंगे।

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment