.....

जो देश के खिलाफ बोलते हैं उन्हें 'सबक' देने की जरूरत : पर्रिकर

पुणे : रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने 'असहिष्णुता' संबंधी बयान को लेकर अभिनेता आमिर खान पर निशाना साधा है। रक्षा मंत्री ने हालांकि, आमिर का नाम तो लिया लेकिन उनका इशारा अभिनेता की ही तरफ था।

 पर्रिकर ने शनिवार को पुणे में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि कैसे कुछ लोगों को देश के विरोध में बोलने का साहस हो जाता है। ऐसे लोग, जो लोग देश के विरूद्ध बोलते हैं, उन्हें इस देश के लोगों द्वारा पाठ पढ़ाने की जरूरत है।

पर्रिकर के इस बयान पर सियासत भी गर्माती दिख रही है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि पर्रिकर और आरएसएस सभी को 'सबक' सिखाना चाहते हैं। 

 कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने पूछा कि रक्षा मंत्री का काम पाकिस्तान जैसे दुश्मन देशों से हमारी सुरक्षा करनी है कि आमिर खान जैसे अभिनेताओं को धमकाना?

पर्रिकर सियाचिन पर मराठी पत्रकार-लेखकर नितिन गोखले की पुस्तक का विमोचन करने के बाद वहां लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने आमिर का नाम लिए बगैर कहा, ‘एक अभिनेता ने कहा है कि उनकी पत्नी भारत से बाहर जाना चाहती है। 

यह दंभपूर्ण बयान है। यदि मैं गरीब हूं और मेरा घर छोटा है तो  मैं तब भी अपने घर से प्यार करूंगा और हमेशा उसे बंगला बनाने का सपना देखूंगा।

गौरतलब है कि पिछले साल नवंबर में ‘पीके’ स्टार ने यह कहते ‘असहिष्णुता’ के कथित बढ़ते माहौल पर सुर में सुर मिलाया था कि वह ऐसी बढ़ती घटनाओं से स्तब्ध हैं और उनकी पत्नी किरण राव ने सुझाव तक दिया था कि देश छोड़ दें।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment