.....

लोकसभा अध्यक्ष ने किया गौर को फोन, कहा- पार्टी को खड़ा करने वालों की ऐसी दुर्दशा, सोचा नहीं था

भोपाल.   गृह मंत्री रहे बाबूलाल गौर के इस्तीफे के बाद भाजपा और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता उनके संपर्क में हैं। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को उनसे फोन पर लंबी बात की। 

गौर ने सिंधिया से हुई बातचीत का खुलासा तो नहीं किया, लेकिन महाजन से हुई चर्चा के बारे में बताया। कहा- सुमित्रा महाजन ने मुझसे कहा कि पार्टी को खड़ा करने वालों के साथ एेसा व्यवहार होगा, मैंने कभी नहीं सोचा था।

उन्होंने सलाह दी है कि हमें पार्टी को किसी भी तरह से नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए। पार्टी की बदौलत ही हम राजनीति की ऊंचाइयों तक पहुंचे हैं। हालांकि जिस तरीके से पार्टी ने इस्तीफा लिया गया उसका उन्हें अफसोस है।
 
उधर, कांग्रेस नेता उनसे जिस तरह से मुलाकात कर रहे हैं उससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि कांग्रेस गौर को भाजपा के खिलाफ खड़ा होने के लिए तैयार कर रही है। हालांकि गौर ने इस तरह की खबरों को अफवाह बताया है।

 उनका कहना है कि मैंने भाजपा को अपना पूरा जीवन दिया है। मैं पार्टी छोड़ने के बारे में कभी सोच भी नहीं सकता। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव और पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने शनिवार को मुलाकात की थी। 

गौर से मिलने वालों में कांग्रेस के अलावा भाजपा के नेता भी हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता रघुनंदन शर्मा के अलावा पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने गौर से उनके निवास पर मुलाकात की। 

गौर कांग्रेस विधायक आरिफ अकील द्वारा आयोजित इफ्तार पार्टी में गौर, सरताज सिंह और कैलाश जोशी भी शामिल हुए।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment