जाट आरक्षण आंदोलन, सेना बुलायी गयी, देखते ही गोली मारने के आदेश

चंढीगढ़: जाटों के लिए ओबीसी कोटे के तहत आरक्षण की मांग कर रहे जाट नेताओं ने हरियाणा सरकार की ओर से दिए गए प्रस्ताव को ठुकरा दिया और कहा कि उनका आंदोलन मांग पूरी होने तक जारी रहेगा। ऑल इंडिया जाट आरक्षण संगठन समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने कहा, हरियाणा सरकार की ओर से कोई ठोस प्रस्ताव नहीं दिया गया है।
 भाजपा सरकार जाटों को मूर्ख बनाने का प्रयास कर रही है क्योंकि जाटों को आरक्षण देने के संदर्भ में उसके इरादे ठीक नहीं हैं। सर्वदलीय बैठक के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि जाट को आरक्षण देने के लिए बिल का मसौदा तैयार करेगी और इस संदर्भ में सभी दलों से सुझाव मांगे हैं। मलिक ने कहा, जाटों को आरक्षण देने में सिर्फ मुख्यमंत्री को समस्या है। भाजपा में शेष नेता आरक्षण देन के पक्ष में हैं। उन्होंने आरोप लगाया, खट्टर की जातिवादी मानसिकता है क्योंकि वह जाट नहीं है। वह खुद को गैर जाट नेता के तौर पर साबित करने का प्रयास कर रहे हैं।
हरियाणा में ओबीसी कोटे के तहत आरक्षण की मांग को लेकर जाटों का आंदोलन हिंसक होने के बाद शुक्रवार को राज्य के नौ जिलों में सेना बुला ली गयी और रोहतक तथा भिवानी में कर्फ्यू लगाने के साथ ही हिंसा भड़काने वालों को देखते ही गोली मारने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। हिंसक भीड़ द्वारा राज्य के विभिन्न हिस्सों में की गयी आगजनी के दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गयी और 25 अन्य घायल हो गए।
 केंद्र ने भी 3,300 अर्धसैनिक बलों को हरियाणा भेज दिया। रोहतक में हिंसक भीड़ ने कुछ पुलिसकर्मियों को बंधक बनाने के साथ ही राज्य के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर को आग लगा दी और रोहतक, झज्जर, हांसी तथा कई अन्य जगहों पर कई सरकारी और निजी संपत्तियों को को भी आग के हवाले कर दिया गया।
राज्यभर में कल स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया गया है और साथ ही सभी जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गयी हैं। आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग में आरक्षण की मांग कर रहे आंदोलनकारियों ने हिसार और रोहतक में टोल प्लाजा समेत पुलिस और निजी वाहनों, इमारतों, कार्यालयों को भी निशाना बनाया। दोनों टोल प्लाजा दिल्ली-हिसार-फाजिल्का राष्ट्रीय राजमार्ग पर पड़ते हैं।
हरियाणा के डीजीपी यशपाल सिंघल ने चंडीगढ़ में एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि तोड़फोड़ पर उतारू भीड़ में से किसी व्यक्ति द्वारा चलायी गयी गोली में घायल हुए बीएसएफ जवान द्वारा आत्मरक्षा में चलायी गयी गोली से एक व्यक्ति मारा गया। रोहतक के उपायुक्त डी के बेहरा ने देर शाम बताया कि केवल एक व्यक्ति की मौत हुई है और तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हैं। 
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment