....

विश्व एड्स दिवस पर निकाली गई जन जागरूकता रैलियां

जनसामान्य में एचआईवी की जागरूकता को बढ़ाने और लोगों में इस बीमारी के प्रति व्याप्त भय और भ्रांतियों को दूर करने के लिए विश्व एड्स दिवस पर गुरूवार को जागरूकता गतिविधियां की गई। इस अवसर पर जिले की विभिन्न स्वास्थ्य संस्थाओं से जागरूकता रैलीयों एवं नुक्कड़ नाटकों का आयोजन किया गया। एड्स जागरूकता हेतु 15 दिसम्बर तक 360 डिग्री अभियान किया जा रहा है  जिसमें जागरूकता गतिविधियों, एचआईवी की काउंसलिंग एवं टेस्टिंग गतिविधियां, केयर सपोर्ट एवं ट्रीटमेंट संबंधी गतिविधियां की जाएगी।


एड्स जागरूकता हेतु ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवसों में एचआईवी एड्स परामर्श सत्र किए जा रहे हैं। जिसमें विशेष रुप से गर्भवती माता से शिशु में होने वाली एचआईवी एवं सिफलिस के संक्रमण की जांच की जा रही है । यह जांच गर्भावस्था के प्रथम तिमाही में की जाती है । स्कूल हेल्थ प्रोग्राम के तहत जिले के शासकीय हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी स्कूलों में छात्र छात्राओं को एचआईवी एड्स, हेपेटाइटिस एवं टीबी संबंधी जानकारी प्रदान की जाएगी । इसके लिए ओपन क्विज प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी भोपाल डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि विश्व एड्स दिवस पखवाड़े के दौरान जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र स्तर पर स्वास्थ शिविर आयोजित किए जाएंगे । इन शिविरों में विशेषकर गर्भवती महिलाओं एवं यौन रोगियों, टीबी के मरीजों , माइग्रेंट्स एवं अन्य जोखिम समूहों की एचआईवी स्क्रीनिंग तथा सभी मरीजों की 4-एस टीबी स्क्रीनिंग की जावेगी। साथ ही प्रोटोकॉल अनुसार काउंसलिंग, कन्फेरमेट्री जांच एवं उपचार सुनिश्चित किए जाएंगे। आज जिला जेल में बंद 150 बंदियों की एचआईवी जांच की गई।  

अभियान के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों, शहरी बस्तियों,रेलवे स्टेशन, रेलवे लाइन के किनारे बसी बस्तियों, औद्योगिक इकाइयों एवं असंगठित क्षेत्रों के श्रमिकों, ऑटो -टैक्सी ड्राइवर, औद्योगिक इकाइयों के हम्माल एवं ट्रक ड्राइवर- क्लीनर आदि के बीच जागरूकता गतिविधियां एवं आवश्यक होने पर सीबीएस स्क्रीनिंग की जाएगी।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment