.....

पिछले 5 हफ्तों की कमी के बाद दुनिया में फिर बढ़ने लगी है कोरोना से होनेवाली मौतें: WHO

 करीब 5 हफ्तों तक गिरावट के बाद दुनियान भर में कोरोना से होनेवाली मौतें फिर से बढ़ने लगी हैं। WHO ने इस लेकर चेतावनी देत हुए बताया कि COVID-19 से होने वाली मौतों की संख्या में 5 हफ्तों की गिरावट के बाद एक बार फिर से पिछले सप्ताह 4% की उछाल आई है। WHO के मुताबिक एक बार फिर से दुनिया भर में कोरोना को गंभीर परिणाम दिखने लगे हैं। पिछले एक हफ्ते में इस वायरस से होने वाली मौतों की संख्या में 4 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।


WHO ने गुरुवार को कोरोना के ताजा आंकड़े जारी करते हुए बताया कि पिछले सप्ताह कोरोना वायरस से दुनिया भर में 8,700 मौतें हुईं, जो पिछले 5 हफ्तों की तुलना में 4 फीसदी ज्यादा है। वहीं अमेरिका में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों में 21% और पश्चिमी प्रशांत इलाके में 17 फीसदी की उछाल दर्ज की गई है। बता दें कि पश्चिमी प्रशांत इलाके में ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड से लेकर सिंगापुर, मलेशिया, फिलिपींस, चीन, जापान और साउथ कोरिया सहित 28 देश आते हैं।

वैसे WHO ने कहा कि कोरोना वायरस के मामलों में लगातार कमी हो रही है लेकिन फिर भी पिछले हफ्ते करीब 32 लाख नए मामले सामने आए। वहीं कुछ क्षेत्रों में संक्रमण के मामलों में अब भी वृद्धि हो रही है। पश्चिम एशिया और दक्षिणपूर्व एशिया में क्रमश: 58 फीसदी और 33 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अदानोम गेब्रेयेसस के मुताबिक संख्या में कमी की एक वजह ये भी है कि कई देशों ने निगरानी और जांच कम कर दी है।

यूरोप और उत्तरी अमेरिका के अधिकतर संपन्न देशों ने अपने यहां से कोरोना वायरस से जुड़े प्रतिबंधों को काफी हद तक हटा दिया है। चीन ने शंघाई और बीजिंग में कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के बाद कड़े प्रतिबंध लगाये थे, लेकिन कोविड की रफ्तार थमने के बाद अब उसने भी इन नियमों में ढील देना शुरू कर दिया है।

भारत में स्थिति

भारत में भी कोरोना वायरस से होने वाली मौतें बढ़ी हैं। पिछले 24 घंटे में 12,213 नए संक्रमण के मामले और 11 मौतें दर्ज की गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में 111 दिनों के बाद पहली बार 12,000 से अधिक कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं। इसके साथ देश में एक्टिव कोरोना मामलों की संख्या बढ़कर 58,215 हो गई है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment