.....

ममता बनर्जी ने CAA पर उठाये सवाल, अमित शाह ने दिया जबाव

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के पश्चिम बंगाल दौरे के साथ ही टीएमसी और बीजेपी में बयानबाजी का दौर शुरु हो गया है। एक तरफ ममता बनर्जी ने गृहमंत्री के खिलाफ मोर्चा खोल रखा हो, तो दूसरी तरफ अमति शाह सीधे सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साध रहे हैं। सिलीगुड़ी के रेलवे स्पोर्ट्स मैदान में एक सभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को निशाने पर लेते हुए कहा कि हमने सोचा था कि ममता बनर्जी तीसरी बार जीती हैं तो शायद सुधर जाएंगी, लेकिन कुछ नहीं बदला। इसलिए बीजेपी उनके खिलाफ लड़ाई जारी रखेगी। उन्होंने सीएए के मुद्दे पर ममता बनर्जी के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि CAA का मुद्दा अभी खत्म नहीं हुआ है और कोरोना महामारी के खत्म होते ही इसे लागू किया जाएगा।


इससे पहले ममता बनर्जी ने गृहमंत्री की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा था कि CAA बिल लैप्स हो गया, लेकिन सरकार ने उसे संसद में पेश नहीं किया। उन्होंने कहा कि हम सबके साथ पूरी एकता से रहना है। लेकिन बीजेपी ऐसा नहीं चाहती। ममता बनर्जी ने घुसपैठ के मुद्दे पर भी केन्द्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि गृहमंत्री अमित शाह ने बीएसएफ को हमारे राजनीतिक इलाकों में दखल देने का अधिकार दे दिया है।

अमित शाह ने दिया जबाव

ममता बनर्जी के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए अमित शाह ने कहा, "टीएमसी अफवाह फैलाती है कि सीएए (CAA) वास्तविकता में कभी लागू नहीं होगा। लेकिन कोरोना की लहर खत्म होते ही CAA को लागू किया जाएगा। टीएमसी वाले कान खोलकर सुन लें कि सीएए वास्तविकता है, था और रहेगा। हम बंगाल से घुसपैठ समाप्त करेंगे।"

अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि मैं बंगाल के लोगों को धन्यवाद देना चाहता हूं कि उन्होंने विधानसभा में बीजेपी विधायकों की संख्या को तीन से बढ़ाकर 77 करने में मदद की। साथ ही उन्होंने गोरखा समुदाय के लोगों की समस्याओं को भी दूर करने का आश्वासन दिया।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment