.....

WHO ग्लोबल सेंटर फॉर ट्रेडिशनल मेडिसिन का उद्घाटन पीएम मोदी ने किया

 पीएम नरेन्द्र मोदी ने जामनगर में WHO ग्लोबल सेंटर फॉर ट्रेडिशनल मेडिसिन का उद्घाटन किया। इस मौके पर मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ और डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक डाक्टर टेड्रोस घेब्रेयसस भी उपस्थित रहे। वहीं, भूटान के प्रधानमंत्री लोतेय त्शेरिंग, बांग्लादेश की प्रधानमंत्री हसीना शेख और नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउवा ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस पारंपरिक चिकित्सा वैश्विक केंद्र के उद्घाटन कार्यक्रम में हिस्सा लिया। डब्ल्यूएचओ ग्लोबल सेंटर फॉर ट्रेडिशनल मेडिसिन (GCTM) की इस कार्यक्रम और सम्मेलन का आयोजन ग्लोबल आयुष इन्वेस्टमेंट एंड इनोवेशन समिट (GAIIS) द्वारा किया जा रहा है ।


इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि मैं विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक डॉ टेड्रोस एडनॉम घेब्रेयसस का विशेष रूप से आभारी हूं। उन्होंने भारत की प्रशंसा में जो शब्द बोले हैं, उसके लिए मैं हर भारतीय की तरफ़ से उनका धन्यवाद करता हूं।उन्होंने ये भी कहा कि योग का विस्तार करने में यह नया संस्थान अहम भूमिका निभाएं, यह बहुत आवश्यक है।

वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक डॉ टेड्रोस एडनॉम घेब्रेयसस ने लोगों को गुजराती में अभिवादन करते हुए कहा 'डब्ल्यूएचओ-ग्लोबल सेंटर फॉर ट्रेडिशनल मेडिसिन' कोई संयोग नहीं है। मेरे भारतीय शिक्षकों ने मुझे पारंपरिक दवाओं के बारे में अच्छी तरह से सिखाया और मैं उनका बहुत आभारी हूं।'

इससे पहले प्रधानमंत्री ने सोमवार को गांधीनगर में स्कूलों के कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का दौरा किया। साथ ही पीएम मोदी ने गुजरात के बनासकांठा में एक नए डेयरी कॉम्पलेक्स का उद्घाटन किया। इस संयंत्र में आलू से तैयार खाद्य सामग्री बनाई जाएगी। दियोदर में 600 करोड़ रुपए की लागत से इस संयंत्र का निर्माण किया गया है। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि आज भारत दुनिया का सबसे बड़ा दूध उत्पादक है। करोड़ों किसानों की आजीविका दूध पर निर्भर करती है। भारत सालाना 8.5 लाख करोड़ रुपये मूल्य का दूध उत्पादन करता है। लेकिन इस बड़े अर्थशास्त्रियों सहित कई लोग ध्यान नहीं देते हैं।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment