.....

CM शिवराज ने की महाकाल मंदिर परिसर विस्तार योजना के कार्यों की समीक्षा

 भोपाल।  उज्‍जैन में कोटि तीर्थी को इस तरह विकसित करें कि यहां भव्यता और दिव्यता की अनुभूति हो। रुद्रसागर में जल शुद्ध रहे। संपूर्ण क्षेत्र आकर्षक लगे। अक्षरधाम या ऐसे ही अन्य तीर्थ स्थानों की तरह यहां जन आकर्षण बढ़ाया जाए। संपूर्ण क्षेत्र भगवान शिव की महिमा का दर्शन करवाने वाला हो। महाकाल मंदिर परिसर विस्तार योजना के काम अगले मीन माह में व्यवस्थित रूप से पूरे कर लिए जाएं।

यह निर्देश मुख्यमंत्री शि‍वराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को उज्जैन में संचालित निर्माण कार्य और सौंदर्यकरण योजनाओं की समीक्षा करते हुए दिए। साथ ही कहा कि लोकार्पण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को आमंत्रित किया जाएगा। बैठक से पहले मुख्यमंत्री कार्यालय में पदस्थ विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी आनंद कुमार शर्मा की पुस्तक महाकाल के अद्भुत प्रसंग का विमोचन किया गया।

बैठक में उज्जैन के कलेक्टर आशीष सिंह ने महाकाल मंदिर परिसर क्षेत्र के विकास कार्यों को लेकर प्रस्तुतीकरण दिया। इस दौरान बताया गया कि पहले और दूसरे चरण में 425 करोड रुपये विभिन्न् कार्यों पर खर्च किए जा रहे हैं। इन कार्यों के पूरा होने पर महाकाल महाराज मंदिर परिसर और अन्य स्थानों पर सुविधाओं का विकास होगा। यह कार्य आने वाले सिंहस्थ 2028 की दृष्टि से भी महत्वपूर्ण होंगे। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि नगर के सौंदर्य को ध्यान में रखते हुए जो भी जरूरी काम हैं, उन्हें जल्द पूरा किया जाए। महाकाल मंदिर के अलावा अन्य स्थानों का इस तरह विकास हो जिससे श्रद्धालु और पर्यटक एक-दो दिन रुकना चाहें। यात्रा के बाद पूर्ण आनंद और संतोष का भाव लेकर जाएं।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment