.....

मध्‍य प्रदेश सरकार मंगलवार को दो हजार करोड़ रुपये का ऋण लेगी, अब तक इतना कर्ज!

 भोपाल। । प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने और विकास परियोजनाओं के क्रियान्वयन के लिए सरकार मंगलवार को दो हजार करोड़ रुपये का ऋण लेगी। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) के माध्यम से यह ऋण बीस साल के लिए लिया जाएगा।


प्रदेश सरकार इस वर्ष अब तक 13 हजार करोड़ रुपये से अधिक ऋण ले चुकी है। सरकार के ऊपर मार्च 2021 की स्थिति में दो लाख 53 हजार 335 करोड़ रुपये का ऋण है। जो अब बढ़कर दो लाख 68 हजार 335 करोड़ रुपये तक पहुंचने की संभावना है। इसमें बाजार का ऋण सर्वाधिक एक लाख 54 हजार करोड़ रुपये से अधिक है।

विधानसभा में कांग्रेस के विधायकों ने प्रदेश के ऊपर ऋण की स्थिति को लेकर प्रश्न भी पूछे थे। वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने बताया था कि सरकार नियमों के दायरे में रहते हुए आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने और विकास परियोजनाओं के लिए ऋण लेती है और उसके लिए बजट में प्रविधान भी किए जाते हैं।

केंद्रीय राज्यमंत्री डा.एल मुरुगन ने की विभागीय योजनाओं की समीक्षा

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण, पशुपालन, मत्स्य और डेयरी राज्य मंत्री डा. एल मुरुगन ने रविवार को भोपाल में पशुपालन, मत्स्य और डेयरी विभाग के कामकाज की समीक्षा की। विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक में विभिन्न् क्षेत्रों किए जा रहे कामों के बारे में जानकारी ली। साथ ही निर्देश दिए कि पशुपालन और मत्स्य पालन के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि के लिए केंद्र सरकार द्वारा तय कार्यक्रमों का क्रियान्वयन प्रभावी तरीके से किया जाए। इस दौरान विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात भी की।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment