.....

कमिश्नर और कलेक्टर सुन लें किसी ने गड़बड़ी की तो छोड़ूंगा नहीं-सतना मे मुख्यमंत्री की दो टूक

 सतना। शनिवार को हितग्राही सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में रैगांव विधानसभा के ग्राम दुर्गापुर पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही बरतने वालों को कड़ी चेतावनी दी। इसके साथ ही ग्राम वासियों द्वारा राशन वितरण में लापरवाही की शिकायत करने पर मुख्यमंत्री भड़क गए और तुरंत कलेक्टर को राशन दुकान का निरीक्षण कर जांच करने निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राशन में गड़बड़ी करने वालों को वे छोड़ेंगे नहीं। उन्हें जेल भेज दिया जाएगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने अपने भाषण के दौरान कहा कि यहां कमिश्नर और कलेक्टर दोनों मौजूद हैं, सुन लें मैं गड़बड़ी करने वालों को छोड़ूंगा नहीं। मुख्यमंत्री ने मंच से ही योजनाओं की जानकारी भी दी और योजनाओं के हितग्राहियों को चेक भी प्रदान किए। दुर्गापुर में दुर्गा स्व-सहायता समूह की बहनों से भेंट कर समूह द्वारा निर्मित उत्पादों का अवलोकन किया एवं गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की। इस दौरान स्व सहायता समूह की बहनों ने सीएम को समूह द्वारा निर्मित जैकेट भेंट की। अंत में उन्होंने भाजपा पदाधिकारियों की बैठक भी ली और बूथ विस्तार सहित संगठन एप की समीक्षा की।

मुख्यमंत्री ने भाषण में यह कहा : मुख्यमंत्री ने दुर्गापुर में मंच से कहा कि रैगांव में पानी की थोड़ी कमी है। उसे दूर किया जाएगा। बाणसागर से 5 विकासखंडों के एक हजार गांव और बाणसागर फेस-2 में 785 गांव, जिनमें दुर्गापुर और आसपास के गांव जोड़कर पाइप लाइन बिछाकर पानी की टंकी बनाकर टोंटी वाले नल से पानी प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि रैगांव क्षेत्र के विकास में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी जाएगी। जनदर्शन के दौरान की गई सभी घोषणाएं पूरी हाेंगी। दुर्गापुर के आमजनाें ने जो प्यार दिया है, उसे क्षेत्र के विकास कार्यों के रूप में हमारी सरकार ब्याज सहित वापस करेगी। गांव में खेती के विकास के लिए इमरहा नाला पर बांध बनाया जाएगा। इसमें डूब में आने वाली 35 हेक्टेयर वन भूमि के संबंध में कलेक्टर और डीएफओ मिलकर रास्ता निकालें। वन भूमि के बदले राजस्व भूमि देकर यहां बांध बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में 40 लाख से अधिक लाडली लक्ष्मी बेटियां हैं। जब इन बेटियों को देखता हूं तो मन प्रसन्नता और उमंग से भर जाता है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान का लाड़ली लक्ष्मी योजना की बालिकाओं एवं उनकी माताओं द्वारा अभिनंदन एवं धन्यवाद ज्ञापित किया गया। उन्होंने कहा कि फॉरेस्ट और रेवेन्यू विभाग के बीच समन्वय स्थापित कर कार्य किए जाएं। उन्होंने कहा कि दुर्गापुर में सर्वे कर सुचारू बिजली की व्यवस्था के लिए जितने जरूरी हैं उतने ट्रांसफार्मर का इंतजाम किया जाएगा। कोविड की तीसरी लहर में अभी खतरनाक स्थिति नहीं बनी है। लेकिन कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन अवश्य करें। जिन्होंने अभी तक टीका नहीं लगवाया है वह टीका जरूर लगवाएं। मैं प्रधानमंत्री को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने सबको मुफ्त में टीका उपलब्ध कराया।

गरीबों के अधिकार को छीनने नहीं देंगे : मुख्यमंत्री ने कहा कि राशन में गड़बड़ी करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि मैंने कलेक्टर को निर्देश दिए हैं कि गड़बड़ करने वालों पर सख्त कार्रवाई करें। गरीबों के अधिकार हम किसी को छीनने नहीं देंगे। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत प्रतिवर्ष किसानों को 6-6 हजार रुपये देते हैं और मध्यप्रदेश सरकार मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत 4 हजार रुपये प्रदान किए जाते हैं। प्रदेश के 78 लाख से अधिक किसानों को प्रति वर्ष 10-10 हजार रुपए दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो किसान भाई योजना से शेष रह गए हैं उन्हें अभियान चलाकर जोड़ा जाएगा। किसानों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है। आजीविका स्व सहायता समूह को बहनों को सशक्त करना हमारा पहला कर्तव्य है। हमारा प्रयास है कि मेरी हर बहन की आमदनी दस हजार रुपया हो। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि कई स्व सहायता समूह बेहतर कार्य कर रहे हैं। हमने महीने में एक बार रोजगार दिवस मनाने का फैसला किया है। 25 फरवरी को फिर रोजगार दिवस के रूप में मनाया जाएगा। और अलग-अलग काम धंधों के लिए लोन उपलब्ध कराया जाएगा।हमने मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना शुरू की है। जिन घरों में एक से अधिक परिवार एक साथ रह रहे हैं, एक परिवार अर्थात पति, पत्नी और उनके बच्चे। ऐसे परिवारों को योजना के तहत भूखण्ड देकर रहने की जमीन का मालिक बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरा आप सभी से आग्रह है कि साल में एक दिन अपने गांव का जन्मदिन जरूर मनाएं। साल में एक दिन गांव के सभी लोग बैठकर अपने गांव के विकास की रूपरेखा तय करें। सरकार भी आपके साथ है।

घायल पुलिसकर्मियों की ली जानकारी : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर सतना अनुराग वर्मा से घायल पुलिस कर्मियों की जानकारी ली और उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए कामना करते हुए उचित इलाज की व्यवस्था करने निर्देश दिए। दरअसल मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के लिए सतना से दुर्गापुर जा रही पुलिस पार्टी का वाहन एक अन्य कार से टकरा गया था जिसके कारण लगभग आठ पुलिस कर्मी घायल हो गए थे जिन्हें सतना के जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment