.....

नए वर्ष में ग्रह-नक्षत्रों के बन रहे हैं ये शुभ योग

 आप सभी को नये साल का बेसब्री से इंतजार होगा, साथ ही ये उम्मीदें भी होंगी कि नया साल आपके लिए शुभ हो। लेकिन ज्योतिष के मुताबिक आपका शुभ समय तब आता है, जब ग्रहों के अच्छे योग बनते हों। शुभ योग में जातक की किस्मत बदल सकती है। इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं, साल 2022 में आनेवाले वो शुभ संयोग, जब आपकी किस्मत आपका साथ देगी। पहले आपको बता दें ग्रहों की मौजूदा स्थिति। साल की शुरुआत ज्येष्ठा नक्षत्र में शनिवार के दिन होने वाली है, जिसके स्वामी शनि हैं। इस समय शनि शुक्र ग्रह के साथ दसवीं राशि मकर में स्थित हैं। वहीं बृहस्पति ग्रह कुंभ राशि में, राहु वृषभ राशि में तथा केतु वृश्चिक राशि में मौजूद है। आइए अब आपको बताएं कि ये ग्रह, कब अन्य ग्रहों के साथ मिलकर हमारे लिए शुभ योग का निर्माण करेंगे।


शश योग

यह योग पंच महापुरुष योगों में से एक है। शश योग तब बनता है जब कुंडली में शनि की एक विशेष स्थिति होती है। जब शनि अपनी स्वराशि या फिर अपनी उच्च राशि में स्थित होता है, तब यह योग तब बनता है। वर्ष 2022 के अधिकांश समय में मकर राशि यानी स्वराशि में स्थित है। ये सिर्फ 29 अप्रैल, 2022 से 12 जुलाई, 2022 तक के समय में इस राशि में नहीं रहेगा। यानी ये समय छोड़ दिया जाए, तो शनि लगभग पूरे साल जातकों को यह शुभ योग प्रदान कर रहा है।

क्या होंगे लाभ?

शश योग के कारण जातक की नेतृत्व क्षमता बेहतर होती है। वह व्यक्तिगत तथा पेशेवर जीवन में लोकप्रियता हासिल करता है और व्यापारिक सौदों में भी सफल होता है। इस योग वाले जातक अपने जीवन काल के अंत में सफलता की ऊंचाइयों को छूने में सक्षम होते हैं। जिनकी कुंडली में शनि मजबूत या शुभ स्थिति में है, उन्हें इस योग से विशेष लाभ होगा।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment