.....

पीपीएफ में लोगों के रुझान बैकिंग होने के चलते इसका रिस्क फ्री होना

पीपीएफ में लोगों के बढ़ रहे रुझान की सबसे बड़ी वजह गवर्नमेंट बैकिंग होने के चलते इसका रिस्क फ्री होना है. इसमें जमा होने वाली अधिकतम सालाना डेढ़ लाख की नगदी तो टैक्स फ्री होती ही है, मेच्योरिटी के समय या पहले भी सिचुएशनल विड्रॉल के वक्त मिलने वाले ब्याज पर कोई टैक्स नहीं लगता. 15 साल का लॉकिंग पीरियड, एफडी से अधिक रिटर्न और टैक्स में छूट के चलते इसकी डिमांड बढ़ गई है.

किसके लिए फायदेमंद
हर भारतीय के लिए पीपीएफ अकाउंट खोलना फायदेमंद है. यह सिर्फ एक बार ही खुल सकता है, किसी नाबालिग के लिए भी खोलना है तो खाता अभिभावक ही ऑपरेट कर पाएगा. इसे अब एनआरआई अब नहीं खोल पाएंगे, लेकिन पहले से खुलवा रखा है तो 15 साल तक ऑपरेट करने में कोई दिक्कत नहीं है.


Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment