मध्य प्रदेश में कोरोना ज्यादा घातक है, देश के औसत से 11% ज्यादा मौत सिर्फ मध्य प्रदेश में


भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। मध्य प्रदेश में कोरोना से होने वाली मौतों में 41 फीसदी ऐसे मरीज भी शामिल थे जिन्हें दूसरी कोई बीमारी नहीं थी, इसके बाद भी उन्हें बचाया नहीं जा सका।


देश भर के आंकड़ों की बात करें तो 8 मई तक कोरोना से मरने वाले 1886 लोगों में 70 फीसदी को दूसरी बीमारियां भी थीं। यानी सिर्फ 30 फीसदी ऐसे लोगों की मौत हुई जिन्हें दूसरी बीमारियां नहीं थीं। कोरोना से मरने वालों में 32 फीसदी ऐसे थे, जिन्हें डायबिटीज और हाइपरटेंशन दोनों था। 11 फीसदी सिर्फ डायबिटीज वाले थे। बाकी हृदय रोग, अस्थमा, किडनी, शराब का नशा करने वाले थे।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment