गरीबों को सितंबर तक मुफ्त अनाज दे सरकार: सोनिया गांधी


कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर गरीबों को अनाज उपलब्ध कराने की मांग की है। सोनिया ने पीएम मोदी से अपील की है कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई की इस घड़ी में सरकार को यह सुनिश्चित करना होगा कि किसी भी नागरिक को भूखे नहीं रहना पड़े। 


सोनिया गांधी ने सोमवार को पीएम मोदी को पत्र लिखकर सरकार को इस साल सितंबर तक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) के लाभार्थियों को प्रति व्यक्ति 10 किलो अनाज प्रदान करने के लिए कहा है। प्रधानमंत्री मोदी को लिखे पत्र में, उन्होंने यह भी मांग की कि जो खाद्य असुरक्षा का सामना कर रहे हों, लेकिन उनके पास राशन कार्ड नहीं है। ऐसे लोगों को भी 10 किलो अनाज छह महीने तक मुफ्त में प्रदान किया जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग मुख्य रूप से प्रवासी मजदूर हैं, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है। 
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि देशभर में लाखों लोगों को लॉकडाउन के कारण खाद्य असुरक्षा का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि यह दुखद है वह भी यह जानते हुए कि भारत के पास मौजूदा महामारी जैसी समस्याओं से निपटने के लिए खाद्यान्न का बड़ा बफर स्टॉक है।
पीएम मोदी को लिखे अपने पत्र में उन्होंने कहा कि वर्तमान संकट ने कई अपेक्षाकृत खाद्य सुरक्षित परिवारों को खाद्य असुरक्षा और गरीबी में धकेल दिया है। सोनिया ने लिखा कि महामारी के खिलाफ हमारी लड़ाई में हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि कोई भी भुखमरी का सामना न करे।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment