भारत में लॉकडाउन ही है सबसे बड़ा मददगार है


नई दिल्ली ! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन 2.0 की घोषणा कर दी है। कोविड-19 का संक्रमण रोकने की रणनीति बनाने में लगे लोगों के अनुसार सरकार के पास लॉकडाउन को ढाल बनाने के सिवा कोई चारा नहीं है, क्योंकि अभी भारत के पास कोविड-19 की जांच, संक्रमण की पहचान, लोगों का इलाज करने और चिकित्सकों-नर्सों व अन्य स्टाफ की उचित सुरक्षा के पूरे इंतजाम नहीं हो पाए हैं।


अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, इटली सभी को अपने लिए ही संसाधनों की जरूरत है। बताते हैं चिकित्सा के कुछ उपकरण और संसाधन भारत हांगकांग के रास्ते से ले आया था, लेकिन हुए करार का बहुत सा भाग आना बाकी है। वहीं चीन में भारत के राजदूत विवेक मिसरी के अनुसार भारत ने चीन को डेढ़ करोड़ पीपीई किट, मास्क, गॉगल का आर्डर दिया है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment