.....

मोंटेक सिंह अहलूवालिया से MP का खाली ख़ज़ाना भरने के लिए सरकार लेगी टिप्स



भोपाल ! मध्यप्रदेश के खाली खजाने को भरने के लिए प्रख्यात अर्थशात्री मोंटेक सिंह अहलूवालिया  प्रदेश सरकार को मंत्र देंगे.वो प्रदेश की अर्थव्यवस्था पटरी पर लाने के लिए मंथन करेंगे. प्रदेश सरकार ने उनसे मदद मांगी है.प्रदेश सरकार के बुलावे पर अहलूवालिया ने सहमति दे दी है. वो 18 फरवरी को भोपाल आ रहे हैं. अफसरों के साथ वो मैराथन बैठकें करेंगे और प्रदेश सरकार के दूसरे बजट के लिए रोडमैप भी तैयार करेंगे.
बीते 15 साल में भाजपा सरकार में प्रदेश सरकार पर लगातार कर्ज बढ़ा है. कमलनाथ सरकार लगातार बोल रही है कि शिवराज सरकार ने हमें खाली ख़ज़ाना सौंपा. खस्ता आर्थिक हालत के कारण कमलनाथ सरकार को बार-बार कर्ज भी लेना पड़ रहा है. वो अब तक 13600 करोड़ से ज्यादा का कर्ज ले चुकी है. प्रदेश पर 1.67लाख करोड़ से ज्यादा का कर्ज हो चुका है. कमलनाथ सरकार अब दूसरे बजट में जनता को राहत देने की तैयारी में है. सरकार ने नये टैक्स ना लगाने का आमजन से वादा किया है. सरकार अब अर्थशास्त्री मोंटेक सिंह अहलूवालिया की मदद ले रही है. ऐसा अनुमान है कि आहलूवालिया जीएसटी के बाद लॉजिस्टिक हब पर फोकस कर सकते हैं.
प्रदेश सरकार के दूसरे बजट को लेकर ऐसे सैक्टर या इस तरह के विषयों पर भी मंथन किया जाएगा जहां सरकार को मितव्ययिता करना चाहिए.पिछली सरकार की फायदा ना देने वाली योजनाओं को बंद करने की तैयारी होगी.या फिर उनको नए प्लान के साथ तैयार करके लागू किया जाएगा.सरकारी कामकाज में खर्च को कम करने के दूसरे विकल्प भी तलाशें जाएंगे.प्रदेश की आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए बूस्टअप डोज देने के लिए उद्योग रोजगार औऱ सर्विस सेक्टर पर विचार किया जा सकता है. ऐसे सेक्टर चुने जाएंगे जहां निजीकरण को बुलाया जा सके.सामान्य कामकाज में रोजगार और स्वरोजगार को बढ़ाने के लिए कई विकल्पों की तैयारी की जा रही है.रजिस्ट्री औऱ नामांतरण सहित जमीन प्रॉपर्टी से संबंधित वैकल्पिक उपाय आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए किए जा सकते हैं. आहलूवालिया के साथ अफसर खेती को फायदा का धंधा बनाने पर भी मंथन कर सकते हैं.

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment