दिल्ली में भड़की हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने बुलाई आपात बैठक



नई दिल्ली ! उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद में शुरू हुए दंगों को तुरंत काबू करने के लिए उच्चस्तरीय मंथन शुरू हो गया है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने तमाम आला हुक्मरानों को इस आपात बैठक में तलब किया है. साथी ही केंद्रीय गृह सचिव एके भल्ला ने हालात पर कड़ी नजर रखे होने की बात कही है. उन्होंने हर हाल में शांति कायम करने के लिए की गई सभी जरूरी व्यवस्था पर संतुष्टि जताई.
दिल्ली में हुई हिंसक घटना में अब तक एक हेड कॉन्स्टेबल समेत 4 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा 66 लोग घायल भी हुए हैं. घायलों को उपचार के लिए जीटीबी और अन्य अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.
स्थिति पर नियंत्रण की हिदायत
आनन-फानन में उत्तर-पूर्वी दिल्ली जिले में बिगड़े हालात को काबू करने की जिम्मेदारी खुद गृह मंत्री अमित शाह ने अपने हाथ में ले ली है. आपात बैठक में केंद्रीय गृह सचिव एके भल्ला सहित दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को सख्त हिदायत दी गई कि किसी भी तरह से जल्दी से जल्दी हालात पर काबू पाएं.
केंद्रीय गृह सचिव एके भल्ला ने देर शाम बताया, 'उत्तर पूर्वी दिल्ली के हालातों पर पैनी नजर रखी जा रही है. काफी हद तक स्थिति नियंत्रण में आ चुकी है. पुलिस और अर्धसैनिक बलों को सतर्क रहने को कहा गया है. साथ ही अगर जरूरत महसूस हुई तो केंद्र सरकार अन्य कड़े कदम उठाने से भी नहीं चूकेगी. हमारा मकसद हर हाल में शांति कायम करना है.'

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment