PAK विदेश मंत्री के बेतुके बयान पर भारत की कड़ी प्रतिक्रिया

भारत ने रविवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के उस बेतुके आरोप पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की जिसमें उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में कहा था कि पाकिस्तान के पेशावर में 2014 में एक स्कूल पर हमला करने वाले आतंकवादियों को भारत का समर्थन प्राप्त था।
 भारत ने कुरैशी के बयान को घृणास्पद आक्षेप करार देते हुए कहा कि यह बयान इस हमले में मारे गए बच्चों की याद को अपमानित करना है।
संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन की राजदूत ईनम गंभीर ने भारत के जवाब देने के अधिकार का उपयोग करते हुए कुरैशी द्वारा शनिवार रात महासभा के संबोधन में लगाए गए आरोपों को निराधार बताया।
 गंभीर ने कहा, चार साल पहले पेशावर के एक स्कूल पर हुए भयानक हमले के संबंध में लगाया गया घृणित आरोप बेहद आक्रोशित करने वाला है।
 उन्होंने प्रधानमंत्री इमरान खान के नेतृत्व वाली नई पाकिस्तान सरकार को यह याद दिलाया कि 2014 में स्कूली बच्चों पर हुए हमले से भारत को बेहद दुख और पीड़ा पहुंचा थी। 
गंभीर ने कहा कि भारत के संसद के दोनों सदनों ने शोक मनाते हुए एकजुटता पेश की थी। उन्होंने कहा, मारे गए बच्चों की याद में भारत के सभी स्कूलों में दो मिनट का मौन रखा गया था।
 पाकिस्तान के विदेश मंत्री द्वारा लगाया गया घृणित आरोप इस हमले में मारे गए बच्चों की यादों का अपमान करना है।
 पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी ने कहा था कि पाकिस्तान पेशावर के स्कूल में 150 बच्चों की हत्या को कभी नहीं भूलेगा। इस हमले और कई अन्य हमले का संबंध भारत द्वारा समर्थन प्राप्त आतंकवादियों से जुड़ा है।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment