.....

मानसून के मौसम में इन बीमारियों से रहें सावधान

नई दिल्ली: मानसून के आने से प्राकृतिक सुंदरता और हरियाली चारों ओर छा जाती है. देश में इन दिनों मानसून ने लोगों को गर्मी के चढ़ रहे पारे से भी राहत दिला दी है.
 लेकिन अगर हम आप से कहें कि इस राहत के साथ कई रोगों द्वारा घेरे जाने का भी खतरा है तो, आप चौंक जाएंगे. मानसून के मौसम में वायु व पानी संक्रमित रोगों के साथ ही बैक्‍टीरियल एवं फंगल इंफेक्शन होने का खतरा हमेशा बना रहता है.
 हालांकि इन आम समस्‍याओं से आप छोटी-छोटी सावधानियां अपनाकर बच सकते हैं. फिजिशियन का कहना है कि मानसून के मौसम में भी खान-पान पर नियंत्रण और सतर्कता बरतनी चाहिए. 
मानसून के मौसम में हरी पत्तेदार सब्जियां का सेवन वात (वायु) रोगों को बढ़ावा देता हैं. वहीं, इस मौसम में मलेरिया और डेंगू होने का खतरा भी बढ़ जाता है.
 फिजिशियन ने बताया कि मानसून में टाइफॉइड और पीलिया जैसी बीमारियों के रोगी भी बढ़ जाते हैं. इस मौसम में पेट के संक्रमण का भी खतरा बहुत अधिक होता है. 
फिजिशियन डॉ. ने बताया कि बारिश के मौसम में पत्तेदार सब्जियों का सेवन कम से कम ही करना चाहिए. वहीं, इन सब्जियों को खाने से पहले गर्म पानी से धोकर तेज आंच में पकाकर ही खाना चाहिए. 
इस छोटी सी सावधानी से आपको पेट के संक्रमण का खतरा नहीं होगा. डॉ. निगम ने बताया कि बारिश के मौसम में भोजन को ऊर्जा में बदलने की प्रक्रिया (मेटाबॉलिज्म) कम हो जाती है. बेसल मेटाबॉलिज्म रेट कम होने से शरीर में भोजन पचाने की क्षमता कम हो जाती है.
 ऐसे में तेल की अधिकता वाले भोजन से बचना चाहिए. साथ ही खाना खाने के तुरंत बाद सोना नहीं चाहिए. अगर आप ऐसा करेंगे तो, अपच की समस्या से परेशान हो सकते हैं. 
फिजिशियन डॉ. ने बताया कि बारिश के मौसम में बच्चों के साथ बड़ों को भी सर्दी-जुकाम की बीमारी हो जाती है. बहुत ज्यादा ठंडा पानी पीने और बारिश के पानी में नहाने से परहेज कर इससे बचा जा सकता है. 
दूषित खान-पान के कारण होने वाली बीमारी हैजा से बाहर के खाने से परहेज कर बचा जा सकता है. वहीं, मलेरिया और डेंगू से बचने के लिए मच्छरों के प्रजनन को रोककर बचा जा सकता है. अपने घर के आसपास पानी जमा न होने दें. कूलर और पानी की टंकी आदि का पानी नियमित रूप से बदलें. 
उन्होंने बताया कि बैक्‍टीरिया जनित रोग टाइफॉइड से भी साफ-सफाई रखने से बचा जा सकता है. दूषित खान-पान से परहेज इस रोग से बचाव में कारगर है. फिजिशियन डॉ. कृष्ण कुमार निगम ने बताया कि बारिश के मौसम में अधिकतर रोग दूषित खान-पान के कारण ही होते हैं. मानसून के मौसम में पानी को उबालकर पीने से पीलिया जैसे वायरल रोग से भी बचा जा सकता है.
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment