रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर भारत ने सुरक्षा और कड़ी की

भारत ने रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर सुरक्षा और कड़ी कर दी है। बीते दिनों खबर आई थी दो हजार रोहिंग्या भारत आ सकते हैं इसे लेकर केंद्र सरकार ने बाकी के राज्यों में अलर्ट कर दिया है।

खबर है कि भारत ने बांग्लादेश बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी है। अगर रोहिंग्या देश में घुसने की कोशश करते हैं तो बीएसएफ जवान उन्हें रोकने के लिए चिली स्प्रे और स्टन ग्रेनेड (बेहोश करने वाले ग्रेनेड) का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

बॉर्डर पर जवानों को इस बात की परमिशन दे दी गई है कि रोहिंग्या मुसलमानों को देश में घुसने से रोकने के लिए जवान ये कठोर कदम उठा सकते हैं।

 बॉर्डर सिक्यॉरिटी फोर्स (BSF)  के एक अधिकारी का कहना है कि हम उन्हें किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाना चाहते और न ही उन्हें गिरफ्तार करना चाहते हैं, लेकिन हम रोहिंग्या को भारत में घुसने नहीं दे सकते। 

पहचान ना जाहिर करने की शर्त पर अधिकारी ने बताया,  जो रोहिंग्या भारत में घुसने की कोशिश करेंगे उन्हें रोकने के लिए हम स्टन ग्रेनेट और चिली स्प्रे का इस्तेमाल करेंगे। 

अधिकारी का कहना था कि वो अपनी पहचान इसलिए नहीं जाहिर कर सकता क्योंकि उन्हें मीडिया से बात करने की परमिशन नहीं है। 

बता दें कि भारत में करीब 40 हजार मुसलमान अवैध तरीके से रहे हैं। रोहिंग्या मुसलमानों के भारत में रहने पर केंद्र सरकार ने भी सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रख दिया है।

 केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में 16 पन्नों का हलफनामा दायर कर कहा है कि रोहिंग्या मुसलमान भारत में अवैध तरीक से रह रहे हैं इसलिए उन्हें यहां रहने की अनुमति नहीं दी जा सकती। 

देश के सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए केंद्र सरकार ने कहा कि रोंहिग्या का पाकिस्तान और आतंकी संगठन इस्लामिल स्टेट से भी संपर्क हो सकता है जो कि देश के लिए खतरा है इसलिए उन्हें यहां रहने नहीं दिया जा सकता। 
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment