2400 गरीब कन्याओं का विवाह महाकुम्भ अद्भुत और प्रेरणादायी : शिवराज सिंह

भोपाल  : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि 15 मई को अमरकंटक में नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा के पूर्णता के अवसर पर महाकुम्भ हुआ था। आज 2400 बेटियों के विवाह का महाकुम्भ सिंगरौली में हुआ है। दोनो महाकुम्भ भव्य, पवित्र और अद्भुत रहे हैं। 
गरीब परिवार की बेटियों के लिए इस विवाह महाकुम्भ से हर व्यक्ति को प्रेरणा लेकर गरीब बेटियों की सुखमय जीवन के लिए सामूहिक प्रयास कर ऐसे आयोजन करने चाहिए। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के इस विशाल आयोजन ने मध्यप्रदेश में रिकार्ड कायम किया है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान सिंगरौली जिले के बैढ़न नगर में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अन्तर्गत आयोजित विशाल विवाह समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर 200 निकाह भी हुए। श्री चौहान ने कहा कि 15 मई को अरमकंटक के महाकुम्भ में प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी भी शामिल हुए थे।
 प्रधानमंत्री नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा के उद्देष्य की पूर्णता और जन सहयोग से गदगद और प्रसन्न हुए थे। उन्होंने कहा कि नर्मदा नदी के प्रवाह को अविरल बनाए रखने और प्रदूषणमुक्त बनाने के लिए नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा ने बड़े जन-आन्दोलन का रूप लिया है। 
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि प्रदेश की प्रत्येक नदी को बचाना एवं संरक्षित करना है। अतः किसी भी नदी में मशीनों के माध्यम से उत्खनन नहीं होगा। मशीनों के उत्खनन पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध रहेगा। नर्मदा नदी से कहीं भी रेत उत्खनन नहीं होने दिया जाएगा। यह आंदोलन अलग-अलग रूपों में जारी रहेगा। 
नर्मदा नदी से उतनी ही रेत निकाली जा सकेगी जितनी रेत निकालने से नर्मदा नदी के पर्यावरण और नदी को नुकसान नहीं पहुँचेगा। कितनी रेत उत्खनन करना होगा यह वैज्ञानिक सलाह के आधार पर तय होगा तथा निर्णय एक समिति करेगी जिसके अध्यक्ष प्रदेश के उद्योग मंत्री होंगे। 
यदि शासन के निर्णय के विरूद्ध नदियों से रेत उत्खनन होता है तो कार्यवाही की जायेगी। रेत ढोने वाले डम्पर, उत्खनन में लगी मशीन जप्त की जायेंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज सिंगरौली के इस कन्या विवाह महाकुम्भ की सफलता प्रशासन, जन-प्रतिनिधियों, समुदाय और जन सहयोग से सम्भव हुई है। मैं गदगद और प्रसन्न हूँ। पहले एक साथ 11 सौ कन्या विवाह का रिकार्ड बड़वानी जिले का रहा है। आज 2400 कन्याओं का सामूहिक विवाह प्रेरणास्पद है। गरीब कन्याओं के विवाह के अवसर पर इतना भव्य और अदभुत आयोजन वर-वधू के साथ उनके परिवारजनों को खुशी और आनन्द से भर देता है।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment