पलानीस्वामी ने सरकार बनाने का दावा पेश किया

चेन्नई  : AIADMK विधायक दल के नेता चुने गए ईके पलानीस्वामी 124 MLAs की लिस्ट के साथ गवर्नर सी. विद्यासागर राव से मिले। उन्होंने सरकार बनाने का दावा पेश किया। 

दूसरी ओर, पन्नीरसेल्वम के सपोर्टर सांसद-विधायकों ने भी गवर्नर से मुलाकात की। जयललिता की भतीजी दीपा जयकुमार भी उनके सपोर्ट में आ गईं। इसबीच, पुलिस चेन्नई के पास कूवाथुर रिजॉर्ट को खाली कराने के लिए पहुंची।

 यहां शशिकला सपोर्टर 100 से ज्यादा मौजूद हैं। विधायकों के रिजॉर्ट नहीं छोड़ने पर बिजली सप्लाई काट दी गई। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को 21 साल पुराने बेहिसाबी प्रॉपर्टी के मामले में शशिकला और उनके 2 रिश्तेदारों को दोषी माना।

इसके बाद भी AIADMK ने शशिकला का सपोर्ट किया। पार्टी ने कहा कि शशिकला ने हमेशा ही जयललिता का बोझ हलका किया। इस बार भी ऐसा ही हुआ है।

शशिकला ने सरेंडर करने से पहले पलानीस्वामी को पार्टी का अगला नेता बनाया। पन्नीरसेल्वम और उनके खेमे के 20 नेताओं (12 सांसद और 8 विधायकों) को बाहर का रास्ता दिखाया है।

वहीं, पन्नीरसेल्वम खेमे पर हमला करते हुए लोकसभा डिप्टी स्पीकर और पार्टी के वरिष्ठ नेता एम थंबीदुराई ने कहा कि पन्नीरसेल्वम सरकार नहीं बना सकते। पलानीस्वामी को नया लीडर चुना गया है। 

विधायकों का बहुमत हमारे साथ है। ऐसी खबर आ रही है कि पन्नीरसेल्वम ने अपने सपोर्टर्स को रिजॉर्ट भेजा है। लेकिन उन्हें पुलिस ने रास्ते में ही रोक दिया।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment