विराट कोहली बने तीनों फॉर्मेट के कप्तान, युवी की वापसी

 मुंबई में बीसीसीआइ के चयनकर्ताओं की हुई बैठक में आधिकारिक रूप से विराट कोहली का राजतिलक कर दिया गया तो युवराज सिंह का वनवास भी खत्म हो गया।
कोहली को तीनों प्रारूपों के लिए टीम इंडिया की कमान सौंप दी गई। इसके साथ ही इंग्लैंड के खिलाफ 15 जनवरी से शुरू होने वाली वनडे और टी-20 सीरीज के लिए सिक्सर किंग युवराज सिंह की भी वापसी हुई है।
 इसके अलावा 37 वर्षीय आशीष नेहरा पर भी चयनकर्ताओं ने एक बार फिर दांव खेला है। उन्हें और सुरेश रैना को टी-20 टीम में शामिल किया है।
 पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में टीम का हिस्सा हैं। एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली राष्ट्रीय चयन समिति ने दिल्ली के युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत को टी-20 टीम में शामिल करके संकेत दे दिए हैं कि वह किसे धौनी का उत्तराधिकारी समझते हैं।
 अजिंक्य रहाणे को टी-20 टीम से बाहर कर दिया गया है। पंत को बल्लेबाज के रूप में उनकी जगह शामिल किया गया है।
नौ साल से अधिक समय तक टीम की कप्तानी करने वाले धौनी विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में खेलेंगे। धौनी ने बुधवार को वनडे और टी-20 की कप्तानी भी छोड़ दी थी।
 प्रसाद ने धौनी की सराहना करते हुए कहा, "हमें पता है कि माही क्या चीज था, वह प्रकृति से कप्तान है, मोर्चे से अगुआई करने वाला।"
 युवराज रणजी ट्रॉफी में काफी अच्छी फॉर्म में रहे और इस दौरान उन्होंने पांच मैचों में 84 की औसत से 672 रन बनाए। इसमें बड़ौदा के खिलाफ 260 रन उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा। इसके बाद उन्हें अपनी शादी के लिए ब्रेक लिया। प्रसाद ने कहा कि युवराज ने घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है। उसने जिस तरह से खेला उसकी हम प्रशंसा करते हैं।
35 वर्षीय युवराज सिंह चार साल बाद वनडे मैच खेलेंगे। 2016 टी-20 विश्व कप में टीम इंडिया का हिस्सा रहे युवराज ने अपना अंतिम वनडे 2013 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उसकी सरजमीं खेला था, जिसमें बारिश के कारण टीम इंडिया को बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला था।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment