मुख्तारन माई रैम्प पर उतरीं, 14 साल पहले सजा के तहत हुआ था गैंगरेप

इस्लामाबाद : मुख्तारन माई के साथ 14 साल पहले दरिंदगी की हदें पार हुई थीं। उनके साथ गैंगरेप किया गया। फिर आरोपियों ने उन्हें बगैर कपड़ों के घुमाया। 

अब मुख्तारन माई पाकिस्तान में महिलाओं के सम्मान के लिए लड़ रही हैं। यही मुख्तारन माई रैम्प पर उतरीं। इस मौके पर उन्होंने कहा कि वे पाकिस्तान की महिलाओं में उम्मीद और हिम्मत की नई रोशनी पैदा करना चाहती हैं। 

मुख्तारन माई ने कहा कि मेरे इस कदम से अगर किसी महिला को मदद मिल सकी तो मुझे बेहद खुशी होगी।
 फैशन पाकिस्तान वीक नाम से मंगलवार को यह शो देश की जानी-मानी फैशन डिजाइनर रोजिना मुनीब ने रखा था।

उन्होंने अपने कलेक्शन को 'जिंदगी के रंग' नाम दिया था।बता दें कि 14 साल पहले मुख्तारन माई के साथ के लोगों ने पंचायत की सुनाई सजा के तहत गैंगरेप किया था। तब उनकी उम्र 28 साल थी।

मुख्तारन माई के भाई पर आरोप था कि उसने कबीले की ऊंची मस्तोई जाति की महिला से  रिश्ते बनाए थे। यह मामला पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के मीरवाला गांव का था।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment