राष्ट्रवादी विचारकों का तीन दिवसीय सम्मेलन 12 नवंबर से भोपाल में

भोपाल : राष्ट्रवादी विचारधारा रखने वाले सभी विचारकों का एक बड़ा जमावड़ा 12, 13, 14 नवंबर को मध्य प्रदेश में भोपाल में जुटेगा, विचार करेंगे कि कैसे भारत की संस्कृति को सर्वोपरि रखते हुए देश की औपनिवेशिक विचारधारा में बदलाव किया जा सके। 
नेशन फर्स्ट यानी राष्ट्र सर्वोपरि के विचार के साथ तमाम लोग इस बात पर मंथन करेंगे कि कैसे हमारे सामाजिक विज्ञान को बदला जा सके, इतिहास को भारत के नजरिए से देखा जा सके।
 यह कार्यक्रम मध्य प्रदेश सरकार और प्रज्ञा प्रवाह नाम की संस्था ने मिलकर आयोजित किया है।
लोकमंथन राष्ट्र सर्वोपरि की सघन भावना से ओत-प्रोत विचारकों, अध्येताओं और शोधकर्ताओं के लिए संवाद का मंच है जिसमें देश के वर्तमान मुद्दों पर विचार विमर्श और मनन चिंतन किया जाएगा।
 राष्ट्र सर्वोपरि की विचारधारा के साथ अपनी तरह के पहले राष्ट्रीय आयोजन में शिवराज चौहान, अनुपम खेर, स्मृति इरानी, राकेश सिन्हा, मुरली मनोहर जोशी, मालिनी अवस्थी समेत कई बड़े नाम शामिल होंगे।
दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में आयोजकों ने बताया कि उन्हें करीब 1500 आवेदन मिले थे लेकिन केवल 550 से 600 विचारकों को ही इस कार्यक्रम में शामिल किया जा सकेगा।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment