हुर्रियत नेताओं का दोहरा चरित्र, गरीब बच्चों के लिए स्कूल करवा दिए बंद, गिलानी अपनी पोती को सुरक्षा में दिला रहे इम्तिहान

  
हुर्रियत नेताओं का दोहरा चरित्र लोगों के सामने आ गया है। हुर्रियत नेता कश्मीर में बंद का एलान कर स्कूलों को जबरन बंद करवा रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ हुर्रियत के नेता सैयद अली शाह गिलानी अपनी पोती को सुरक्षा में इम्तिहान दिला रहे हैं।

 राज्य के आम और गरीब बच्चों की पढ़ाई खराब हो रही है पर उनको अपने बच्चों की चिंता है। कश्मीर में आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से ही हुर्रियत ने बंद का ऐलान कर दिया था। 

जिसमें सभी स्कूलें भी शामिल थी। स्कूलों के बंद होने से आम और गरीब बच्चों की पढ़ाई पर बहुत बुरा असर पड़ रहा है।

पिछले 112 दिनों से स्कूल बंद पड़े हैं और जो स्कूल खोलने की कोशिश की जाती है उसे जला दिया जाता है। पिछले तीन महीनों के दौरान 23 स्कूल जलाकर खाक कर दिए गए हैं।

 हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी की पोती ने अक्टूबर महीने में 10वीं की परीक्षा सुरक्षा के बीच दी थी।

 इंडोर स्टेडियम में हुई इस परीक्षा में 580 में से 573 बच्चे शामिल हुए थे। अब इस मामले को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं।
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment