.....

दिल्ली-वाराणसी के बीच चलेगी दूसरी bullet train, 782 KM की दूरी 2 घंटे 40 मिनट में

नई दिल्ली.     मुंबई-अहमदाबाद के बाद दूसरी बुलेट ट्रेन दिल्ली-वाराणसी के बीच चलेगी। दोनों शहरों के बीच 782 किमी की दूरी सिर्फ 2 घंटे 40 मिनट में तय हो जाएगी। 

अभी इस सफर में अलग-अलग ट्रेनें 10 से 14 घंटे का वक्त लेती हैं। यह ट्रेन लखनऊ होते हुए वाराणसी जाएगी। इस कॉरिडोर के लिए स्पेनिश फर्म से बातचीत चल रही है। वह एक डिटेल रिपोर्ट नवंबर तक सौंप देगी।

 ट्रेन कब तक चलेगी, अभी इसका खुलासा नहीं हुआ है। बता दें कि रेल मिनिस्टर सुरेश प्रभु ने कुछ दिन पहले एलान किया था कि मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन 2023 तक ही शुरू हो पाएगी।

UP में 2017 में असेंबली इलेक्शन होने हैं। इस वजह से भी नरेंद्र मोदी के लोकसभा क्षेत्र को प्रायोरिटी देने की बात कही जा रही है।
दरअसल, दिल्ली-वाराणसी रूट दिल्ली-कोलकाता कॉरिडोर का हिस्सा होगा। दिल्ली से वाराणसी के बीच ट्रेन अलीगढ़, आगरा, कानपुर, लखनऊ और सुल्तानपुर से गुजरेगी।

दिल्ली-वाराणसी रूट की काॅस्ट 43,000 करोड़ रुपए मानी जा रही है।दिल्ली-कोलकाता रूट की कॉस्ट 84,000 करोड़ रुपए होगी।हालांकि, रेलवे सूत्रों का कहना है कि इसकी फाइनल कॉस्ट पूरी स्टडी के बाद ही बताई जा सकती है। रेलवे अफसरों का कहना है कि इस रूट पर डबलडेकर हाई स्पीड ट्रेन की संभावना को भी तलाशा जा रहा है।

दिल्ली-लखनऊ की 506 किमी की दूरी सिर्फ 1 घंटे 45 मिनट में तय की जा सकेगी।दिल्ली से वाराणसी की 782 किमी की दूरी सिर्फ 2 घंटे 40 मिनट में तय हो जाएगी। दिल्ली-कोलकाता का 1513 किमी का सफर 4 घंटे 56 मिनट में तय होगा।

 देश की पहली बुलेट ट्रेन मुंबई और अहमदाबाद के बीच चलेगी। रेल मिनिस्टर सुरेश प्रभु ने कुछ दिन पहले बताया था कि सरकार अब तक बुलेट ट्रेन प्रोजेक्‍ट के लिए 200 करोड़ रुपए अलॉट भी कर चुकी है।

 बुलेट ट्रेन से मुंबई और अहमदाबाद के बीच 508 किलोमीटर की दूरी करीब दो घंटे में तय किए जाने की उम्मीद है। इसके बाद भारत की अन्‍य मेट्रो सिटीज को भी हाईस्‍पीड रेल नेटवर्क से जोड़ा जाएगा। 2018 तक इस ट्रैक पर काम शुरू होने की उम्‍मीद है।

Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment