.....

रूस-यूक्रेन की लड़ाई से इस सप्ताह टूटे शेयर बाजार

 रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध से यह सप्ताह शेयर बाजार के लिए काफी निराशाजनक रहा. संकट गहराने के साथ सेंसेक्स और निफ्टी सहित दुनियाभर के शेयर बाजारों में गिरावट का रुख देखने को मिला. BSE का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक Sensex 18 फरवरी को 57,832.97 अंक के स्तर पर बंद हुआ था. सेंसेक्स 25 फरवरी को 55,858.52 अंक के स्तर पर बंद हुआ. इस तरह सेक्स पिछले पांच सत्र में कुल 1,974.45 अंक लुढ़क गया. इसी तरह, NSE Nifty इस अवधि में 617.90 अंक टूटकर 16,658.40 अंक के स्तर पर बंद हुआ. 


कच्चे तेल की कीमतों में उछाल बना सिरदर्द

Russia-Ukraine War का असर कई प्रकार से इकोनॉमी पर देखने को मिल है. इस लड़ाई के चलते कच्चे तेल की कीमतें गुरुवार को 105 डॉलर प्रति बैरल के पार पहुंच गई. इससे तेल आयात करने वाले भारत जैसे देशों में महंगाई के और अधिक बढ़ जाने की आशंका पैदा हो गई. इस वजह से भी सेंटिमेंट पर असर पड़ा. हालांकि, सप्ताह के आखिरी दिन भारी लिवाली से गिरावट एक स्तर तक सीमित रही.  

अधिकतर शेयरों में गिरावट 

Nifty इंडेक्स की 46 कंपनियां इस सप्ताह लाल निशान में रहीं. Bharat Petroleum के शेयर इस सप्ताह सबसे ज्यादा 9.92 फीसदी लुढ़क गए. इसके अलावा यूपीएल (UPL), एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस (HDFC Life Insurance), ग्रासिम इंडस्ट्रीज (Grasim Industries), एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस (SBI Life Insurance), हीरो मोटोकॉर्प (Hero MotoCorp), टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (Tata Consultancy Services), इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (Indian Oil Corporation), Tata Motors और भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India) के शेयर भी छह फीसद से ज्यादा लुढ़क गए. 

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment