कोरोना वायरस पर G-20 देशों की बैठक में PM मोदी लेंगे हिस्सा


रियाद ! कोरोना वायरस का हमला इस वक्त दुनिया के कई देश झेल रहे हैं। इससे अपने लोगों को कैसे बचाना है, इस पर G-20 देश वर्चुअल बैठ कर रहे हैं। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये 19 देशों और यूरोपीय संघ के नेता ऐक्शन प्लान पर चर्चा करेंगे। सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान इस बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं। इसमें भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हिस्सा लेंगे। उनकी पहल पर ही यह बैठक की जा रही है।


साथ आकर करें चुनौती का सामना
बैठक शुरू करते हुए सलमान ने कहा कि इस महामारी ने इंसानी जिंदगी को भयानक नुकसान पहुंचाया है और दुनियाभर के लोगों को बहुत दर्द दिया है। इसका असर ग्लोबल इकॉनमी, वित्तीय बाजारों, व्यापार, सप्लाई चेन, वृद्धि और विकास पर पड़ा है जिससे पिछले सालों में मिले फायदों पर पानी फिर रहा है। सलमान ने कहा कि इस मानवीय आपदा पर दुनिया की प्रतिक्रिया की जरूरत है। उन्होंने कहा, 'दुनिया हमसे उम्मीद करती है कि हम साथ आएं और इस चुनौती का सामना करने के लिए सहयोग करें।'
भविष्य के लिए भी हो तैयारी
विश्व स्वास्थ्य संगठन को इस महामारी से निपटने में पूरी मदद की जाएगी। इसके लिए रीसर्च को फाइनैंस करना, चिकित्सा और वैक्सीन को विकसित करना और मेडिकल सप्लाई, इक्विपमेंट की उपलब्धता की सुनिश्चित करना जिम्मेदारी है। यही नहीं, भविष्य में संक्रामक बीमारियों से निपटने के लिए तैयार होने की भी जरूरत है। ग्लोबल ग्रोथ के धीमे पड़ने और वित्तीय बाजारों में उथल-पुथल के बीच G-20 ने महामारी के इकॉनमिक और सामाजिक असर को कम करने में अहम भूमिका निभाई है।
विकासशील देशों की मदद की जरूरत
सलमान ने इस महामारी के रिस्पॉन्स में प्रभावशाली तरीके से समन्वय के साथ ग्लोबल इकॉनमी को दोबारा खड़ा करने की जरूरत बताई है। उन्होंने राहत पैकेज, बचाव के लिए उठाए गए कदमों, नीतियों और नौकरी बचाने के तरीकों का स्वागत किया है। उन्होंने विकासशील देशों की मदद करने की बात भी कही ताकि वे इस आपदा और इसके परिणामों से उबर सकें।
पीएम और सलमान की बात के बाद हुई बैठक
यह वर्चुअल मीटिंग पिछले हफ्ते सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्‍मद बिन सलमान और पीएम मोदी के बीच फोन पर हुई बात के बाद होने रही है। इस पूरी बैठक का समन्‍वय सऊदी अरब कर रहा है। पीएम मोदी ने इस संबंध में ऑस्‍ट्रेलिया के पीएम स्‍कॉट मोरिसन से भी चर्चा की थी। जी-20 देशों की यह बैठक ऐसे समय पर हो रही है जब दुनिया के 198 देशों में कोरोना वायरस से अब तक तक 21 हजार से ज्‍यादा लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। इस संकट से निपटने के लिए भारत समेत दुनिया के कई देशों में लॉकडाउन है।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment