पं. रविशंकर विश्वविद्यालय शोध रिसर्च कार्य में अग्रणी बने: उमेश पटेल



रायपुर ! पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय शोध के कार्यों में अग्रणी विश्वविद्यालय की भूमिका में हो ऐसा वातावरण यहां बने इस आशय के विचार पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के रसायन विभाग में अन्तर्राष्ट्रीय रसायन सम्मेलन के शुभारंभ अवसर पर प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने व्यक्त किए। तीन दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय रसायन सम्मेलन पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय में रसायन शास्त्र अध्ययन शाला तथा नागार्जुन विज्ञान महाविद्यालय रायपुर के संयुक्त तत्वावधान में 56वां इंडियन कैमिकल सोसायटी का सम्मेलन पंडित दीनदयाल ऑडिटोरियम में आयोजित किया गया है।
उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के लिए यह सौभाग्य की बात है कि रायपुर की सबसे पुरानी एवं नई यूनिवर्सिटी में भारतीय रसायन सोसायटी (इंडियन केमिकल सोसायटी) का वार्षिक सम्मेलन आयोजित किया गया है। उन्होंने कहा कि निश्चित ही इससे प्रदेश के विद्यार्थियों, शोधकर्ताओं एवं प्राध्यापकों और प्रदेश के कॉलेजों को फायदा मिलेगा। अन्तर्राष्ट्रीय रसायन सम्मेलन में अमेरिका, जापान सहित भारत के कई राज्यों के वैज्ञानिक भाग ले रहे हैं। सम्मेलन में विशेष रूप से पश्चिम बंगाल, ओडिशा, बिहार, उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, केरल, तेलंगाना, आन्ध्रप्रदेश, तमिलनाडू, असम, गुजरात, राजस्थान, झारखण्ड, पंजाब सहित अन्य राज्यों के विश्वविद्यालयों, शोध संस्थानों के रसायन शास्त्री भाग ले रहे हैं। सम्मेलन में छत्तीसगढ़ अंचल के विभिन्न विश्वविद्यालय, महाविद्यालय, तथा मूल विज्ञान केन्द्र के स्नातक तथा स्नातकोत्तर के विद्यार्थी अधिक संख्या में शामिल हो रहे हैं। सम्मेलन में युवा वैज्ञानिकों के लिए शोध पत्र प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया है। सम्मेलन में शोध पत्रों को शोध छात्र, विषय विशेषज्ञों के समक्ष प्रस्तुत करेंगे।
अन्तर्राष्ट्रीय रसायन सम्मेलन के उद्घाटन के अवसर पर इंडियन केमिकल सोसायटी के अध्यक्ष प्रोफेसर डी.सी. मुखर्जी और सचिव प्रोफेसर चित्ररंजन सिन्हा ने भी संबोधित करते हुए रसायन विज्ञान के विभिन्न तथ्यों को रखा। इस अवसर पर पं. रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केशरीलाल वर्मा, नागार्जुन साईन्स कॉलेज के केमेस्ट्री विभाग के प्रमुख प्रो. परवेज सहित अन्य प्राध्यापकों ने भी संबोधित किया।

Share on Google Plus

click vishvas shukla

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment