ICSE बोर्ड छठीं क्लास की किताब में ध्वनि प्रदूषण के लिए मस्जिद को जिम्मेदार बताने वाली किताब पर बवाल

आईसीएसई बोर्ड की स्कूलों में पढ़ाई जा रही एक किताब में छपी तस्वीर को लेकर बवाल मच गया है. छठीं क्लास की किताब में छपी तस्वीर में मस्जिद को ध्वनि प्रदूषण के सोर्स के तौर पर दिखाया गया है.
 किताब की यह तस्वीर सोशल मीडिया वायरल हो गई है. लोग प्रकाशक से माफी की मांग के साथ किताब के मौजूदा संस्करण से तस्वीर हटाने की मांग कर रहे हैं.
विज्ञान की इस किताब को सेलिना पब्लिशर्स ने प्रकाशित है, जिसमें एक चैप्टर ध्वनि प्रदूषण के कारणों पर आधारित है. 
सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही तस्वीर में ट्रेन, कार, प्लेन और मस्जिद को शोर पैदा करने वाले चिन्हों के साथ दिखाया गया है.
 इनके बगल में खड़ा एक आदमी अपने हाथों से कानों को बंद किए हुए परेशान दिख रहा है. सोशल मीडिया यूजर्स ने किताब को वापस लेने की मांग के साथ एक ऑनलाइन याचिका भी शुरू की है.
हालांकि आईसीएसई बोर्ड के अधिकारियों की ओर से इस पर कोई टिप्पणी नहीं आई है, लेकिन प्रकाशक ने तस्वीर के लिए माफी मांगी है.
 सोशल साइट पर प्रकाशक हेमंत गुप्ता ने एक पोस्ट में कहा, हम सभी को बताना चाहते हैं कि किताब के अगले संस्करणों में इस चित्र को हटा दिया जाएगा.
गुप्ता ने कहा कि किताब के पेज नंबर 202 पर दर्शाए डायग्राम में दिख रही संरचना एक किले और अन्य शोर पैदा करने वाले चीजों की है, जिन्हें एक शोर गुल से भरे शहर में स्थित दिखाया गया है. उन्होंने कहा कि अगर किसी की भावना को कोई ठेस पहुंची है, तो इसके लिए माफी मांगते हैं.
Share on Google Plus

click News India Host

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment